सुहागरात पर क्यों पीया जाता हैं दूध,जानें क्या है रहस्य

 हिन्दू रीती रिवाज में सुहागरात से पहले दूध पिए जाने की एक पुरानी रस्म हैं जो सदियों से चली आ रही हैं और आगे भी यह रस्म चलती ही रहेगी| हालाँकि इसके पीछे अनेकों लोग अनेकों प्रकार के तर्क और सुझाव देते हैं| आज हम आपको इसकी सच्चाई बताएंगे की आखिर सुहागरात पर दूध क्यों पीया जाता हैं आपको बता दे की सुहागरात में सिर्फ दूल्हा ही दूध पीता हैं और उसके पीछे कारण बहुत अजीब और हैरान करनी वाली हैं| हालाँकि आप में से कुछ लोग ये बात जानते भी होंगे कुछ नहीं| आपने फिल्मों में जरूर देखा की शादी की रात दूल्हा दुल्हन के कमरे को बहुत अच्छे से सजाया जाता हैं और एक गिलास केसर दूध भी रखा जाता हैं जिसे दूल्हा पीता हैं

आपको बता दे की दूध पीने के इसका एक वैज्ञानिक कारण भी हैं वैसे देख जाए तो आमतौर लोग रोजाना ही दूध पीते हैं लेकिन हम आपको बता दे की सुहागरात में पीया जाने वाला दूध बेहद ही खास तरह से बनाया जाता हैं| इस दूध में केसर, बादाम, हल्दी, काली मिर्च पाउडर और सौंफ मिलाई जाती हैं जिसके बाद दूध को हल्का गरम किया जाता हैं और दूल्हे में कमरे में इसे रख दिया जाता हैं| जिसके बाद दूल्हा इसे सुहागरात पर पीता हैं उसके बाद दूल्हा एक अलग ही जोश के साथ नजर आता हैं आपको बता दे की दूध में सेरोटिन नमक एक तत्व होता हैं जिससे दिमाग शांत होता हैं| शादी में इतनी सारी रस्में और खासकर एक नए रिश्ते को लेकर दूल्हा दुल्हन काफी बेचैन हो जाते हैं इसलये दूध पीने से उनका दिमाग शांत होता हैं| हालाँकि दूध में प्रोटीन के काफी गुण पाए जाते हैं जिससे मसल्स को मजबूती मिलती हैं और दूल्हा दुल्हन को अपनी ताकत के जोर से खुश करता हैं| सच्चाई तो यही हैं की सुहागरात को पूरे सुख और ख़ुशी के साथ एन्जॉय करने के लिए दूध पीया जाता हैं

Post a Comment

0 Comments