जस्टिन लैंगर-डेविड बून: चहल के आने से ऑस्ट्रेलिया टीम को हुआ नुकसान वरना नतीजा...

कल भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच पहला टी-20 मुकाबला खेला गया जिसमें भारतीय टीम को 11 रनों से जीत हासिल हुई इस जीत के हीरो रहे भारतीय टीम के स्टार गेंदबाज यूज़वेंद्र चहल जिन्होंने 3 विकेट झटके और मैन ऑफ द मैच बने। दोस्तों आपको बता दें जैसा कि यूज़वेंद्र चहल बीते कल भारतीय टीम की प्लेइंग इलेवन का हिस्सा नहीं थे फिर भी वह मैदान पर उतर कर मैन ऑफ द मैच बने जिसकी वजह से ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट टीम में काफी तनातनी रही।



एक वक्त था जब जस्टिन लैंगर और डेविड बून ऑस्ट्रेलिया टीम में साथ खेलते थे। लेकिन शुक्रवार को कैनबरा के मनुका ओवल मैदान पर दोनों अलग भूमिकाओं में थे और उनके बीच काफी बहस भी होती देखी गई।

जस्टिन लैंगर-डेविड बून

डेविड बून ऑस्ट्रेलिया और भारत के बीच टी20 सीरीज के पहले मैच में मैच रेफरी की भूमिका में थे और लैंगर ऑस्ट्रेलिया के कोच थे और भारत के कनकशन के रूप में युजवेंद्र चहल को मैदान पर उतारने को लेकर दोनों के बीच काफी गर्मागर्मी देखी गई।

लैंगर इस बात को लेकर नाराज थे कि भारत ने रविंद्र जडेजा के कनकशन के रूप में चहल को मौका दे रहा है। लैंगर की नाराजगी तब और बढ़ गई होगी जब चहल ने आरोन फिंच, स्टीव स्मिथ और मैथ्यू वेड के विकेट अपने नाम किए और मैन ऑफ द मैच भी बने।



जडेजा को भारतीय पारी के आखिरी ओवर में मिशेल स्टार्क की गेंद हेलमेट पर लगी थी लेकिन इसके बाद भी उन्होंने बल्लेबाजी जारी रखी। मैदान पर मेडिकल टीम ने आकर उनकी जांच भी नहीं की। भारतीय नंबर सात को इससे पिछले ओवर में हैमस्ट्रिंग इंजरी का इलाज किया गया था। जडेजा ने 23 गेंद पर 44 रन बनाकर भारत को 160 के स्कोर पहुंचाया था।

लैंगर जडेजा की जगह चहल को मैदान पर उतारने से काफी नाराज थे। इस दौरान ऑस्ट्रेलिया के कप्तान आरोन फिंच भी उनके साथ खड़े थे।

कनकशन नियम के तहत टीमों को लाइक-फॉर-लाइक रिप्लेसमेंट उतारने की इजाजत होती है। यानी जैसा खिलाड़ी बाहर हुआ है वैसा ही खिलाड़ी उतारा जा सकता है। ऑस्ट्रेलिया का सवाल था कि क्या ऑलराउंडर जडेजा के स्थान पर गेंदबाज चहल को उतारा जा सकता है।

दोस्तों आप लोग हमारे आर्टिकल को लाइक और चैनल को फॉलो करना ना भूलें ताकि इसी तरह कि क्रिकेट से जुड़ी लेटेस्ट खबर आपको मिल सके।

Post a Comment

0 Comments