माइग्रेन के दर्द की समस्या जड़ से खत्म करने के लिए जरूर अपनाएं यह तरीके

 माइग्रेन एक ऐसी समस्या है जिससे मांसपेशियों और ब्लड वेसल्स प्रभावित होते हैं और यह एलर्जी इंफेक्शन की वजह से उत्पन्न हो सकता है।  माइग्रेन पेन रेमेडीज-सिर के आधे हिस्से में ही माइग्रेन का दर्द देखने को मिलता है जो 2 घंटे से लेकर 2 दिनों तक ठहर सकता है यह समस्या नींद में कमी अधिक तनाव और अन्य कारणों से हो सकती है बता दे नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ हेल्थ की एक रिपोर्ट की मानें तो दुनिया भर में डिसेबिलिटी के प्रमुख कारणों में माइग्रेन को सातवें स्थान पर रखा गया है। वैसे तो डॉक्टरों द्वारा इस बीमारी को दूर करने के लिए अनेक प्रकार की दवाइयां दी जाती है 

लेकिन उसके साथ ही आप घरेलू उपाय का इस्तेमाल करके भी माइग्रेन की समस्या से छुटकारा पा सकते हैं। आइए जानते हैं तो फिर विस्तार से- किसी भी दर्द को दूर करने के लिए अदरक को काफी ज्यादा फायदेमंद माना जाता है पुराने जमाने से यही अदरक का इस्तेमाल ज्यादातर पेन किलर के रूप में ही होता आया है बता दें अदरक के रस में लगभग 200 से ज्यादा तत्व पाए जाते हैं जो एंटी नासिया, एन्टी हिस्टामिन और एंटीबैक्टीरियल गुणों से भरपूर होते हैं। इसलिए माइग्रेन की समस्या से छुटकारा पाने के लिए अदरक का सेवन किया जाता हैं। 

मालिश

ऑक्सीजन की कमी होना सिर जो पर्याप्त मात्रा में ब्लड फ्लो नहीं कर पाते हैं ऐसी स्थिति में माइग्रेन होने की समस्या बढ़ जाती है। ऐसी स्थिति में मालिश करके माइग्रेन की समस्या से छुटकारा पाया जा सकता हैं। ब्लड को ठीक तरीके से फ्लोर करने के लिए मालिश बहुत ही आवश्यक है ऐसे दर्द से छुटकारा भी जल्दी मिल जाता है साथ ही गर्दन को स्ट्रेच करने में भी यह फायदेमंद होता है। 

पेय पदार्थ

हमेशा खुद को है डेट रखने का प्रयास करना चाहिए इससे अनेक प्रकार की बीमारियों से बचा जा सकता है माइग्रेन की समस्या को दूर करने के लिए भी पानी के साथ अन्य पेय पदार्थ बहुत ही प्रभावी माने जाते हैं। इसलिए हमेशा समय-समय पर जूस नारियल पानी, छाछ, पानी और फलों को डाइट में शामिल करते रहना चाहिए। 

अंगूर

अंगूर की सेवन से भी माइग्रेन के दर्द से छुटकारा पाया जा सकता है यदि हेल्थ एक्सपर्ट्स के अनुसार देखा जाए तो मौसम इंफाल में कई ऐसे पोषक तत्व पाए जाते हैं क्यों माइग्रेन की समस्या से छुटकारा दिलाने के साथ तनाव को कम करते हैं। बता दे मौसमी फल में मुख्य रूप से विटामिन ए, सी, कार्बोहाइड्रेट और प्रोटीन जैसे पोषक तत्व पाए जाते हैं। 

दालचीनी

माइग्रेन की समस्या से छुटकारा पाने के लिए दालचीनी का भी इस्तेमाल किया जा सकता है सानिया दर्द से छुटकारा दिलाने के लिए आप दालचीनी से बने लेप का इस्तेमाल कर सकते हैं। दालचीनी को पीसकर चूर्ण बनाकर उसे सीमित मात्रा में पानी में डालकर पेस्ट बना लें और उसे दर्द वाली जगह पर लगाना है। आधे घंटे बाद गर्म पानी से धोने से दर्द कम हो जाता है। 

Post a Comment

0 Comments