बिग बॉस का यह फैसला किसी को नही आया था समझ ,जानें पूरी जानकारी

 अली गोनी पर दिया गया वह फैसला जिसमें उन्हें अगले हफ्ते भी घर से बेघर होने के लिए नामिनेट कर दिया गया । चलिए आपको पूरा मामला बताते हैं  बिग बॉस के घर में रहने के लिए आपको बिग बॉस द्वारा बनाए गए सभी नियमों को व बिग बॉस के सभी आदेशों को मानना पड़ता है । पिछले हफ्ते कविता कौशिक कप्तान बनीं थीं तो घर के कई सदस्यों को यह पसंद नहीं आया था , घर के कई सदस्य जानबूझकर बिग बॉस के नियमों को तोड़ते नजर आये । बिग बॉस ने उन्हें सबक सिखाने के लिए घर की कप्तान कविता को घर के सदस्यों को दण्ड देने का अधिकार देते हैं । 

कविता किसी भी सदस्य का पर्सनल सामान जब्त करके बिग बॉस द्वारा दिए गए डिब्बे में डाल सकतीं थीं । कविता अली गोनी का सामान जब्त करके डिब्बे में डाल देतीं हैं , अली डिब्बे से सामान निकाल कर कविता से बहस करने लगते हैं । अली कहते हैं तू है कौन ? इस पर कविता कहतीं हैं , मैं तुम्हारी बाप हूं । इस पर अली कहतें हैं कि मैं तुझसे 10 साल छोटा हूं पर तेरा बाप हूं । फिर अगले ही पल वह गुस्से में यह कहते नजर आए कि बाप पर कैसे गयी तू । गुस्से से आग-बबूला हुए अली ने कुर्सियों को लात मारकर गिरा दिया और बाहर पड़े डिब्बे पर भी लात मारकर गिरा दिया , जिससे जैस्मीन भसीन और कविता कौशिक को चोट भी लग गई । क्योंकि जैस्मिन अली की दोस्त हैं इसलिए उन्होंने कम्पलेन नहीं किया , किन्तु कविता कौशिक ने इस बात की कम्पलेन कर दिया । अली गोनी को बिग बॉस कहते हैं कि आपने पहले भी बिग बॉस की प्रापर्टी तोड़ने का प्रयास किया है ( जब बिग बॉस के घर में ही क्वरेंटीन थे ) और आज आपने दुसरी बार ऐसा किया है जिसे नजर अंदाज नहीं किया जा सकता , इसलिए आपको अगले हफ्ते भी घर से बेघर होने के लिए नामिनेट किया जाता है । यहां बात यह है कि अली उस समय भी नामिनेट थे , एसी सजा भी क्या सजा है जिसके दण्ड मिलने कि सम्भावना ही 50% हो । बिग बॉस के द्वारा दिए गए दण्ड घर वालों के लिए मिसाल बनने चाहिए , जिससे उन्हें सबक मिले । इस आधे अधूरे दण्ड के कारण ही दो दिन बाद निक्की किसी कारण से गुस्से में बिग बॉस की प्रापर्टी को तोड़ती नजर आतीं हैं।

Post a Comment

0 Comments