नीचे से खुला क्यों होता है मॉल में बने टॉयलेट का दरवाजा ,वजह जानकर आपको नही होगा यकीन

 हम मॉल और मल्टीप्लेक्स में जाते है और हमने वहां का टॉयलेट भी यूज़ किया है पर क्या कभी आपने ऐसा ध्यान दिया है कि इन जगहों के टॉयलेट्स का दरवाजा नीचे से खुला होता है. आज हम आपको इस आर्टिकल में इसी के बारे में बताने वाले है, तो चलिए जानते है की ऐसा क्यों होता है. दोस्तों, फर्श और दरवाज़े के बीच में इतना ज़्यादा गैप होता है कि वो दरवाज़ा कम और खिड़की ज़्यादा लगता है,



 इस गैप को रखने का भी कुछ सार्थक उद्देश्य है जैसा कि वहां के टॉयलेट्स दिन भर इस्तेमाल होते रहते हैं, जिससे फर्श लगातार खराब होता रहता है. फर्श और दरवाज़े के बीच जगह होने से टॉयलेट में पोछा लगाना आसान हो जाता है, वाइपर और मॉप घुमाने में आसानी होती है. अब दूसरा कारण भी यह है की जब टॉयलेट के अंदर मेडिकल इमरजेंसी हो गई और दरवाज़ा बंद होने से बाहर लोगों को पता चल जाएगा, कुछ नहीं तो बाहर से ये दिखता रहेगा कि कोई बड़ी देर से अंदर है और बाहर नहीं आ रहा/रही है.तीसरा कारण यह है की कभी-कभी छोटे बच्चे अंदर से टॉयलेट लॉक कर लेते हैं और उन्हें समझ नहीं आता कि लॉक खोलें कैसे, अगर बच्चे की मदद के लिए कोई न हो, तो बच्चे दरवाज़े के नीचे से बाहर निकल सकते हैं.

अब अंत में चौथा कारण ये भी है कि ऊंचे दरवाज़े से बाहर वाले को आपके पैर दिखते रहते हैं, इससे कोई भूल कर भी अंदर जाने की ग़लती नहीं करेगा.

Post a Comment

0 Comments