About Me

header ads

अगर बरसात के मौसम में होती है आपके सिर में जुएं तो करें यह आसान काम ,जानें

मानसून का मौसम अपने साथ स्वास्थ्य और त्वचा की समस्याओं को भी लाता है। यदि आप बच्चों के बारे में बात कर रहे हैं, तो इस मौसम में वे संक्रमण के साथ-साथ सिर की जूँ से भी ग्रस्त हैं। वैसे, बच्चों में जूँ की समस्या आम है। हालांकि, मानसून के दौरान बारिश का पानी बालों पर गिरता है या नमी के कारण अत्यधिक पसीना आने से सिर पर जूं हो जाती है।
इससे छुटकारा पाने के लिए बाजार में विभिन्न शैंपू उपलब्ध हैं। लेकिन आप कुछ घरेलू चीजों को अपनाकर इस समस्या से छुटकारा पा सकते हैं। आइए बच्चों के बालों में जूँ के कारणों का पता लगाएं: एक ऐसे व्यक्ति के संपर्क में आने से जिसके सिर पर पहले से ही जूँ है। उन लोगों के लिए कंघी, कपड़ा, बिस्तर या तकिया का इस्तेमाल करें, जिनके सिर पर पहले से जूँ हो।


बालों पर गंदगी और गंदगी बालों को ठीक से धोना नहीं कई दिनों तक बालों में जूं के साथ एक बच्चे के साथ खेलना घरेलू
नुस्खे कपूर और नारियल तेल: कपूर के 2 से 3 टुकड़े पीस लें। फिर पाउडर को नारियल तेल में मिलाएं और अच्छी तरह से मिलाएं। तैयार मिश्रण को कुछ देर के लिए छोड़ दें। फिर इस तेल को स्कैल्प पर लगाएं और हल्के हाथों से मसाज करें। कपूर की तेज महक जूँ को मार देती है। फिर खोपड़ी पर एक अच्छा कंघी लागू करें और खोपड़ी से मृत जूँ हटा दें।
प्याज या मूली का रस : प्याज या मूली को पीसकर उसका रस निकालें। तैयार रस से बालों की मालिश करें। 10-15 मिनट के लिए जूँ मर जाएगी। बादाम और नींबू: आयुर्वेदिक गुणों से भरपूर बादाम जूँ को मारने में बहुत प्रभावी है। उसके हेयर पैक को तैयार करने के लिए कुछ बादाम रात भर भिगोकर रखें। सुबह बादाम को पीसकर उसका पेस्ट बना लें। फिर नींबू के रस की कुछ बूँदें जोड़ें और खोपड़ी की मालिश करें।


Post a Comment

0 Comments