सफेद बालों की समस्या खत्म करने के लिए करना चाहिए सौंप का उपयोग

 सफेद बाल नियंत्रण: बाल उम्र के साथ सफेद होने लगते हैं। अधिक ठंड के कारण और आनुवांशिक कारणों से कई लोगों को बालों की सफेद समस्याओं का सामना करना पड़ता है। सफेद बाल न केवल चेहरे को खराब करते हैं बल्कि आत्मविश्वास को भी कम करते हैं। इसलिए, उनसे छुटकारा पाना अधिक महत्वपूर्ण हो जाता है।निगेला में काफी अधिक विरोधी भड़काऊ और एंटीऑक्सिडेंट संपत्ति होती है। इससे बालों के झड़ने की समस्या में राहत मिलती है। यह भी असमय सफेद बालों को रोकता है। ऐसा माना जाता है कि सफेद बालों से छुटकारा पाने के लिए घरेलू उपचार सफेद बालों के लिए बहुत प्रभावी है। इसके इस्तेमाल से बाल न केवल काले होते हैं बल्कि उन्हें आवश्यक पोषण भी मिलता है। अगर सौंफ का इस्तेमाल कुछ खास तरीकों से किया जाए तो यह लंबे समय तक बालों को काला बनाए रखने में 

मददगार साबित होता है। सौंफ और मेथी के दानों को मिलाकर पीने से फायदा होगा 2 चम्मच सौंफ में एक चम्मच मेथी दाना मिलाएं। इसमें 50 मि.ली. पानी डालकर रात भर भिगोकर रखें। सुबह इसे मिक्सी में पीस लें। इसे रोजाना अपने सफेद बालों पर लगाएं। 3 दिन तक लगातार इसे लगाने से बाल काले होने लगेंगे। नियमित रूप से इस प्रयोग से बाल सफेद होना बंद हो जाएंगे। सौंफ के साथ गुड़हल के फूल का जादुई असर होता है 2 से 4 चम्मच सौंफ के बीज लें। इसे ग्राइंडर में पीसकर सौंफ का बारीक पाउडर बना लें। गुड़हल के फूलों को धूप में सुखाएं और पाउडर भी बनाएं। इन दोनों चूर्णों को 150 ग्राम तेल में मिलाकर अच्छी तरह उबालें। ठंडा होने पर इस तेल को लगाएं। एक सप्ताह तक इस तेल का उपयोग करने से बाल काले होने लगते हैं।

 निगेला पेस्ट सबसे प्रभावी है

 250 ग्राम सौंफ लें। इसे मिक्सी में पीस लें। ध्यान रखें कि पाउडर मोटे नहीं होने चाहिए क्योंकि यह आपके बालों में अटक कर बालों में उलझ सकते हैं। पाउडर में 5-6 चम्मच पानी डालकर गाढ़ा पेस्ट तैयार करें। फिर इस पेस्ट में आधा चम्मच एलोवेरा जेल मिलाएं। इसे एक घंटे तक लगा रहने दें। एक घंटे के बाद इस पेस्ट को सफेद बालों पर लगाएं। इसके लागू होते ही असर दिख रहा है। इसका कोई दुष्प्रभाव नहीं है।

Post a Comment

0 Comments