About Me

header ads

इस दो मुँह वाले व्यक्ति की सच्चाई जानकर आपके उड़ जायेंगे होश

हम अपने जीवन में कई बार ऐसे व्यक्तियों को देखते होंगे जिनके कोई शारीरिक अंग अलग होता है। किसी शारीरिक अंग का बढ़ना या फिर घटना स्वयं मनुष्य के हाथ में नहीं होता है। यदि वह मनुष्य जन्म से ही ऐसा है तो उसमें उस मनुष्य का क्या दोष है  हम एक ऐसे ही मनुष्य के बारे में चर्चा करने वाले हैं जिसकी कहानी भावनात्मक है। इंग्लैंड में रहने वाले एडवर्ड मॉड्रिक एक ऐसे व्यक्ति थे जिनके एक सर पर दो मुंह थे। एडवर्ड की कहानी में दिलचस्पी देखने को मिलती हैं। उनका एक मुंह विशेष रूप से उनके सर के पीछे था। इस तरह से एक आगे वाला मुंह और एक सर के पीछे वाला मुंह मिल कर दो मुंह बनाते थे। इस तरह की क्रिया उस समय होती है, 


जब मनुष्य के शरीर के कोई विशेष प्रकार का जीन बढ़ जाता है। एडवर्ड ने जब से जन्म लिया था तभी से वह इसी प्रकार के थे। एडवर्ड के दो मुंह होने के कारण वहां रहने वाले कई लोग उन्हें शैतान मानते थे। एडवर्ड दूसरे मुंह की कई अलग विशेषताएं थी। जब एडवर्ड का एक मुंह सो जाता था तो दूसरा में हर समय छींकता ही रहता था। इसके साथ ही जब एक मुंह जग जाता था यानी आंखें खोल लेता था तो दूसरा मुंह उस समय मुस्कुराता रहता था। लोगों के द्वारा इस तरह से आलोचना करने के कारण एडवर्ड बहुत ही ज्यादा तनाव से ग्रस्त हो गए थे। लोगों का मानना है कि एडवर्ड ने बहुत ज्यादा उपचार किए परंतु उन उपचारों से कुछ नहीं हुआ। लोगों के द्वारा इस तरह से आलोचना करने और चढ़ाने को भी सहन नहीं कर पाया और अंततः एडवर्ड ने आत्महत्या कर ली।


Post a Comment

0 Comments