About Me

header ads

थायराइड पीड़ित के लिए क्या होता हैं लाभदायक ,जानें इस बारे में

आजकल कई लोग थायराइड रोग से पीड़ित हैं। थायराइड में वजन  बढ़ने के साथ हार्मोन असंतुलन भी हो जाते हैं। एक स्टडी के मुताबिक, पुरुषों की तुलना में स्त्रियों में थायराइड विकार दस गुना ज्यादा होता है। थायराइड ग्लैंड में हार्मोन का बैलेंस बिगड़ने के कारण यह समस्या होती है। हाइपरथायरायडिज्म में वजन घटना, गर्मी न झेल पाना, अच्छा से नींद न आना, प्यास लगना, अत्यधिक पसीना आना, हाथ कांपना, दिल तेजी से धड़कना, कमजोरी, चिंता, व अनिद्रा शामिल हैं। आज हम आपको उन खाने की चीजों के बारे में बताएंगे जो थायराइड की समस्‍या को ज्‍यादा बेकार करने का कारण मानी जाती है।


इन दोनों तरह की गोभी के अंदर गॉइट्रोगन नामक तत्‍व बहुत अधिक मात्रा में पाया जाता है। यह थायराइड की समस्‍या को बढ़ाते है। इसलिए अगर आपको लगता है कि आपको यह रोग है तो आप बिल्कुल भी गोभी का सेवन ना करें।
सोयाबीन का इस्‍तेमाल ज्‍यादातर लोग सब्जी के रूप में करते हैं। लेकिन इसका ऑयल भी मिलता है जिसे हम बड़े चाव से खाते हैं। लेकिन क्या आपको इस बात की जानकारी है कि सोयाबीन में भी गॉइट्रोगन पाया जाता हैं, जो थायरॉइड रोग के लिए जिम्मेदार होता है। इसीलिए अगर आप सोयाबीन खाती हैं तो आपके शरीर में थायरोक्सिन बढ़ या कम हो जाता है। 


थायरोक्सिन के बढ़ने या कम होने से थायराइड की रोग होने लगती है। जो हमारी बॉडी के लिए बिल्कुल भी ठीक नहीं है।
शायद आपको इस बात की जानकारी होगी कि थायराइड ग्लैंड नमक का प्रयोग करके ही थायरोक्सिन हार्मोन बनाता है। इसीलिए जब भी हमारी बॉडी में आयोडीन की कमी होती है तो थायरॉइड ग्लैंड बढ़ने लगता है। इसीलिए आयोडीन नमक पर्याप्त मात्रा में खाने की सलाह दी जाती है। सेंधा नमक को अपनी डाइट में शामिल करें।

Post a Comment

0 Comments