इन पुराणों में भोजन खाने के बनाये ये नियम ,होंगे कई फायदे ,जानें

कहा जाता है कि भोजन संबंधी नियमों को ध्यान में रखा जाए तो काया को निरोगी रखा  सकता जा सकता है साथ ही लंबी उम्र भी मिलती है हिंदू मान्यताओं में भोजन करते समय भोजन के साथ इन बातो का ख्याल करना चाहिए आज हम आपको बताते हैं कि हिंदू धर्म में भोजन के कौन से नियम है।  वाधूल समृद्धि के अनुसार बिना नहाए खाना खाने से बीमारियां बढ़ती है और ऐसा व्यक्ति धीरे-धीरे आलसी होने लगता है।  


वामन पुराण का कहना है कि खाना खाते समय दक्षिण की ओर मुंह नहीं करना चाहिए इससे गुस्सा और बुरे विचार बढ़ते हैं और दक्षिण पश्चिम दिशा की ओर और मुंह हो तोरोग  बढ़ते हैं। 
 महाभारत के अनुशासन पर्व में बताता गए बता दे गया है यह भोजन बनाते समय गुस्सा और तनाव नहीं होना चाहिए इसके साथ ही बताया गया कि टूटे-फूटे बर्तनों का उपयोग खाना बनाने में नहीं करना चाहिए।   कुरम  पुराण के अनुसार जूते चप्पल पहने हुए बिस्तर पर बैठ कर या किसी मंदिर और देवस्थान पर भोजन नहीं करना चाहिए।



Post a Comment

0 Comments