इलायची खाने से दूर होती है बवासीर की बीमारी ,पढ़िए पूरी खबर

बवासीर मलाशय के आस पास की सूजन के कारण विकसित होता है। यह दो तरह की होती है। अंदुरुनी और बाहरी। अंदुरुनी बवासीर मे नसो की सूजन दिखाई नही देती पर महसूस होती है। जबकि बाहरी बवासीर मे यह दिखाई देती है। बवासीर को पहचानना बहुत ही आसान है। मल त्यागते समय अत्याधिक पीड़ा और इसके बाद खून आना खुजली होना इसके मुख्य लक्षण है। इसके कारण सूजन भी आ सकती है। लेकिन दोस्तो आयुर्वेदिक उपचार को अपना कर बवासीर से हमेशा के लिए छुटकारा पाया जा सकता है। आज के इस लेख मे हम आपको बताएंगे की कैसे 3 इलाइची का इस्तेमाल करके आप बवासीर से हमेशा हमेशा के लिए छुटकारा पा सकते है।


आइये उससे पहले जान लेते है कुछ और घरेलू नुस्खे जिनके द्वारा भी इसका इलाज संभव है। अच्छी पाचनक्रिया के लिए फाइवर से भरा आहार लेना बहुत ज़रूरी होता है। इसलिए अपने आहार मे फाइवर युक्त आहार जैसे की साबूत अनाज ताज़े फल और हरी सब्जियो को ज़रूर शामिल करे। बवासीर के मस्सो को दूर करने के लिए मठ्ठा बहुत फायेदेमंद होता है। इसके लिए करीब 2 लीटर छाछ लेकर इसमे करीब 50 ग्राम जीरा और स्वाद अनुसार नमक मिला दे। प्यास लगने पर पानी के स्थान पर इसे पिये। 4 दिनों तक ऐसा करने से बवासीर के मस्से ठीक हो जाएंगे। इसके अलावा हर रोज दही खाने से बवासीर की सम्भावना काफी हद तक कम हो जाती है। और इससे फायदा भी मिलता है। त्रिफला के चूर्ण का सेवन रात को सोने से पहले  चम्मच करने से कब्ज की समस्या से मदद मिलती है जिससे बवासीर मे राहत मिलती है।


आइये अब जानते है की कैसे सिर्फ 3 इलाइची से बवासीर का इलाज किया जा सकता है। इसके लिए 3 बड़ी इलाइची को तवे पर रख कर भून लें और हल्का भूरा होने के बाद उसे ठंडा होने के लिए रख दे। फिर इसके बाद इसे पीस कर इसका चूर्ण बना लें। इस चूर्ण को रोज सुबह खाली पेट गुनगुने पानी के साथ लेने से बवासीर हमेशा हमेशा के लिए ठीक हो जाती है।

Post a Comment

0 Comments