About Me

header ads

बच्चों की बदमाशियों को कम करने लिए जरूर करें यह काम

इस समय जो हालात हैं उसमे सभी बच्चे अपने घरों में ही बहुत दिनों से हैं. उनके स्कूल और ट्यूशन आदि सभी बंद हैं. उनका बाहर खेलना-कूदना आदि बंद है. इसके कारण से बच्चों की बदमाशियां भी बहुत ज्यादा होने लगी है. इसके कारण माता-पिता भी बहुत परेशान रहने लगें हैं. बच्चों की परेशानियों से माता-पिता भी बहुत परेशान हैं आज के इस पोस्ट में हम कुछ सुझावों पर चर्चा करेंगे की इस समय बच्चों की बदमाशियों को कैसे कम किया जाए. बच्चे आज कल बहुत बदमाशियां कर रहें हैं. पढ़ना तो वे जैसे भूल ही गएँ हैं. बहुत जगह ऑनलाइन क्लास चल रहें हैं. पर बच्चे उनमे ज्यादा उत्साह नहीं दिखा रहें हैं.


तो इस समय हमें क्या करना चाहिए इस पर आज हम चर्चा करेंगे. सबसे पहली बात बच्चों पर अभी किसी भी तरह की कड़ाई नहीं करें. बच्चों का जो रोजाना का काम होता है जैसे की स्कूल, ट्यूशन, खेल आदि यह सब बदल चूका है. अगर आप उन पर कड़ाई और सख्ती करेंगे. तो यह आपके बच्चे के लिए हानिकारक होगा इस समय हमें अपने बच्चों को प्यार से समझाना हैं. उन्हें आप हर समय पढने के लिए नहीं कहे. आप उन्हें पढ़ाई के छोटे-छोटे काम दे सकतें हैं.जैसे की एक पेज याद करना. या फिर तीन चार सवालों के जवाब लिखना, आदि. आप इसे रोचक बना सकतें हैं की यदि अभी यह टास्क पूरा कर लोगे तो तुम्हे आधे घंटे कार्टून देखने को मिलेगा, आदि.


पढाई के टास्क के बिच में कुछ अंतराल अवस्य रखें ताकि बच्चे पढ़ाई से भागने नहीं लगे. आप उन्हें खेलने के लिए भी समय दें. हो सके तो आप भी उनके खेल में शामिल हों. आप उनके साथ लूडो, कैरेम आदि खेल सकतें हैं. इससे बच्चों का मन लगा रहेगा. आप बच्चों को घर के छोटे मोटे काम करने को करें. आप उन्हें प्यार से घर के छोटे-मोटे कामों को करने के लिए प्रोत्साहित करें. बच्चे जब घर के छोटे मोटे काम करने लगतें हैं तो उनके अंदर एक परिपक्वता आती है. जिसके कारण वे कम बदमाशियां करतें हैं. आप बच्चों के खान पान का ध्यान रखें. लेकिन इसका मतलब यह नहीं है की आप हमेशा उसे खाने के लिए कहतें रहें. आप उन्हें थोड़े - थोड़े अंतराल पर 5-6 बार थोड़ा-थोड़ा खिलाएं.

Post a Comment

0 Comments