12 साल की उम्र में बन जाती है इस गांव की लड़कियां पुरुष ,जानें वजह

हमारी पृथ्वी पर कई ऐसी अनोखी घटनाएं घटित होती हैं, जो आम लोगों की समझ से परे नजर आते हैं। आज हम एक ऐसी घटना के बारे में बात करने जा रहे हैं, जिसे सुनकर आप दंग रह जाएंगे। यह घटना कैरेबियाई देश के एक गांव की है। इस गांव के लड़कियां 12 वर्ष के पश्चात अपने आप लड़का बन जाती हैं। अब आपको लग रहा होगा कि यह कोई मजाक है। यह कोई मजाक बिल्कुल नहीं है। यहां के लोग एक अजीब बीमारी से पीड़ित है, जिसमें कोई भी लड़की 12 वर्ष के उम्र पर पहुंचने के पश्चात लड़का बन जाती है।


यह घटना कैरेबियाई देश के लासेलिनास गांव की है, जहां पर लड़कियां इस बीमारी से पीड़ित हैं। यहां के लोगों को इस बीमारी ने इस तरह से जकड़ लिया है कि इनको कोई रास्ता नहीं सूझ रहा है। कोई भी किशोरी लड़की अपने आप ही लड़के का रूप धारण कर लेते हैं। यदि स्थानीय लोगों की मानी जाए तो यह बीमारी आधे बच्चों में पाई जाती है। है ना कितनी अजीब घटना अभी तक इस बीमारी का कोई भी सटीक उपचार खोज कर नहीं निकाला गया है। डॉक्टर्स की मानें तो यह एक अनुवांशिक बीमारी होती है, जिसमें कोई भी लड़की लड़के का रूप धारण कर लेते हैं। यह एक अनुवांशिक बीमारी है।


यहां के लोग इस तरह की बीमारी से पीड़ित बच्चों को किन्नर कहकर पुकारते हैं। इस बीमारी का नाम 'सूडोहार्मफ्राटाइट' है। किस बीमारी में अपने आप ही एंजाइम में परिवर्तन हो जाता है। एंजाइम में परिवर्तन होने से लड़की के जननांग लिंग में परिवर्तित होने लगते हैं। यही एक मुख्य तथ्य है, जिसे लड़कियों को लड़के बनने का जिम्मेदार माना जाता है। इसके साथ ही समाज के लोग ऐसे बच्चों से घृणा करने लगते हैं और उन्हें अलग नजरिए से देखा जाता है। यदि कोई भी बच्चा इस बीमारी से पीड़ित हो जाता है तो उसके मन में एक घ्रणा का भाव उत्पन्न हो जाता है।

Post a Comment

0 Comments