इस दिग्गज खिलाड़ी ने किया समर्थन डेरेन सैमी ने IPL में लगाया रंगभेद का आरोप,जानें इस बारे में

आईपीएल दुनिया की सबसे ज्यादा लोकप्रिय घरेलू टी-20 क्रिकेट टूर्नामेंट है। आईपीएल ने भारत के समेत कई विदेशी खिलाड़ियों के क्रिकेट करियर को एक नया आयाम दिया है। खिलाड़ियों के क्रिकेट करियर को एक नया रंग देने वाले इस टूर्नामेंट पर अब एक बड़ा आरोप लगा है दरअसल वेस्टइंडीज के दिग्गज खिलाड़ी डेरेन सैमी ने आईपीएल में उनके साथ होने वाले रंगभेद का सनसनीखेज खुलासा किया है। बता दें कि डेरेन सैमी वेस्टइंडीज क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान भी रह चुके हैं। उन्होंने दो बार वेस्टइंडीज की टीम को टी-20 वर्ल्ड कप का खिताब दिलाया है।


आपको बता दें कि डेरेन सैमी ने आरोप लगाते हुए कहा है कि आईपीएल में उन्हें कालू कहकर बुलाया गया है। उन्होंने कहा जब वे सनराइजर्स हैदराबाद की टीम के लिए खेलते फिर तब उन पर ऐसी टिप्पणी की गई थी हालांकि सनराइजर्स हैदराबाद टीम के उस समय के उनके साथी खिलाड़ियों ने ऐसी कोई भी बात होने से इनकार कर दिया था, लेकिन अब इशांत शर्मा की साल 2014 की एक इंस्टाग्राम फोटो में यह बात सच साबित हुई है। इस फोटो में इशांत शर्मा, भुवनेश्वर कुमार, डेल स्टेन और डेरेन सैमी हैं। इस फोटो कैप्शन में ईशांत शर्मा ने बाकी सब का नाम तो सही लिखा, लेकिन डेरेन सैमी के बारे में उन्होंने कालू शब्द का प्रयोग किया है।


आपको बता दें कि जब डेरेन सैमी को स्कॉलर शब्द के बारे में पता चला तो वह गुस्से से लाल पीले हो गए। उन्होंने एक इंस्टाग्राम पोस्ट द्वारा अपनी भड़ास भी निकाली। आपको बता दें कि आप वेस्टइंडीज के दिग्गज बल्लेबाज क्रिस गेल भी डेरेन सैमी के समर्थन में आ गए हैं। क्रिस गेल ने कहा कि जब उन्होंने दुनिया के अलग-अलग देशों में जाकर क्रिकेट खेला तो उन्हें अक्सर ही रंगभेद जैसी टिप्पणी का सामना करना पड़ा है। उन्होंने कहा कि ऐसा इसलिए होता था क्योंकि मैं रंग का काला था वहीं दूसरी तरफ डेरेन सैमी ने इस रंगभेद के मामले में आईसीसी को दखल देने की भी गुहार लगाई थी। उन्होंने कहा कि क्रिकेट में ऐसी नस्लवादी और रंगभेद वाली टिप्पणियों पर आईसीसी को शिकंजा कसने की जरूरत है।

Post a Comment

0 Comments