कई बीमारियों में फायदेमंद होता है ये पौधा ,जरूर जान ले आप

यह पौधा हर जगह देखने को मिल जाता है लेकिन इसके फायदे बहुत कम लोगो जानते है| इसे आक-अर्क के पौधे के नाम से जाना जाता है यह पोधा शुष्क, ऊसर और ऊँची भूमि में ज्यादतर देखने को मिलते हैं।इस पोधे के विषय में समाज में यह भ्रान्ति फेली हुई है कि आक का पौधा विषेला होता है तथा यह मनुष्य के लिये नुकसानदाय होता है। इसमें कुछ हद तक सत्य है क्योकि आयुर्वेद मे भी इसे उपविषों में गिना जाता है|यदि इसका सेवन अधिक मात्रा में नुकसानदाय होता है इस पोधे का हर अंग दवा है, हर भाग उपयोगी है एवं यह सूरज के समान तीक्ष्य। तेजस्वी और पारे के समान उत्तम तथा दिव्य रसायन धर्मा हैं इसलिए आज हम आपको इसके फायदे बताएंगे हमें उम्मीद है आप इस जानकारी को ध्यान पूर्वक पढ़ेंगे और इसका सम्मान भी करते होंगे। हम आशा करते हैं आप इस जानकारी को अपने दोस्तों के साथ भी जरूर शेयर करेंगे और इस चैनल को लाइक करेंगे इसके साथ ही खबर को पूरा पढ़ने के बाद अपने सुझाव हमें कमेंट में जरूर बताएंगे तो चलिए पढ़ते हैं इस खबर को बिना किसी देरी के 


आक के पौधे की पत्ती को उल्टा कर के पैर के तलवे के नीचे रख कर मोजा पहन ले| सुबह से शाम तक रहने दे रात में सोते समय निकाल दें। ऐसा एक सप्ताह तक करने से जिन लोगों को ब्लड शुगर लेवल बड़ता है वह ठीक हो जाएगा|
आक की जड की राख को कडुआ तेल में मिलाकर लगाने से खुजली ठीक हो जाती है| दाद पर लगाने से दाद ठीक हो जाती है आक का दूध बवासीर के मस्सो पर एक सप्ताह तक लगाने से बवासीर जद से खत्म हो जाती है| और घाव पर इसका दूध लगाने से तुरंत राहत मिलती है आक की सूखी डँडी लेकर उसे एक तरफ से जलावे और दूसरी ओर से नाक द्वारा उसका धूँआ जोर से खींचे सिर का दर्द तुरंत ठीक हो जाता है।

Post a Comment

0 Comments