About Me

header ads

काली मिर्च के साथ इस चीज का सेवन करने से होते है ये कई फायदे,जानें

प्राचीन काल से आयुर्वेद में काली मिर्च के औषधीय गुणों की व्याख्या की गई है। यह भी प्राचीन काल से एक मसाले के रूप में इस्तेमाल किया गया है और कई फायदे हैं। ऐसा माना जाता है कि बड़ी मात्रा में काली मिर्च का सेवन हानिकारक साबित हो सकता है, इसलिए अगर इसे नियंत्रित और सही तरीके से इस्तेमाल किया जाए तो यह कई बीमारियों में रामबाण साबित हो सकता है। काली मिर्च का सेवन घर से ही कई बीमारियों को ठीक कर सकता है।


 काली मिर्च में कई पौष्टिक तत्व होते हैं जो हमारे स्वास्थ्य को लाभ पहुंचाते हैं और इस पर कई वैज्ञानिक शोध भी किए गए हैं। लेकिन अगर इसका सेवन काली मिर्च के साथ कुछ चीजों को मिलाकर किया जाए, तो यह अधिक प्रभावी और प्रभावी हो जाता है। तो आइए जानते हैं किन चीजों के साथ आप काली मिर्च का सेवन कर सकते हैं  इन दिनों लोगों को सर्दी खांसी और जुकाम हो रहा है। साथ ही, मानसून का मौसम भी चल रहा है और इस मौसम में इंसान की प्रतिरोधक क्षमता और भी कमजोर हो जाती है।


 आयुर्वेदिक दवाओं में, काली मिर्च को सर्दी और खांसी के उन्मूलन के लिए बहुत प्रभावी माना जाता है। सर्दी-खांसी और जुकाम होने पर दो चम्मच काली मिर्च के पाउडर को एक चम्मच शहद में मिलाकर खाएं, इससे सर्दी खांसी कफ और सर्दी ठीक हो जाती है अगर सुबह उठने के बाद भी आपका पेट साफ नहीं होता है। यदि पेट में कब्ज है या यदि पेट पूरे दिन भारी रहता है, तो यह भविष्य में बड़ी बीमारियों का संकेत है। ठीक से पेट साफ न होने का मतलब साफ पेट का न होना है। यदि यह लगातार होता है, तो पेट की गंभीर बीमारी का खतरा होता है। पेट साफ न होने के कई कारण हैं। एक, हमारे खाने-पीने का कोई निश्चित समय नहीं है। या जो लोग बाहर का खाना बहुत खाते हैं। फास्ट फूड जैसे पिज्जा बर्गर नूडल्स आदि यह पेट में जाता है और पेट और आंतों से चिपक जाता है, जिसके कारण सुबह पेट साफ नहीं हो पाता है। जो लोग बहुत कम पानी पीते हैं उन्हें भी पेट साफ न होने की शिकायत हो सकती है।


 इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए काली मिर्च का काढ़ा बहुत कारगर है। रोजाना एक गिलास गर्म पानी में 4-5 कालीमिर्च उबालकर पीने से शरीर की प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है और किसी भी तरह की बीमारी नहीं भटकती है। इसके अलावा हाथीपांव या फाइलेरिया में काली मिर्च भी बहुत फायदेमंद है। फाइलेरिया के प्रभावित हिस्सों पर काली मिर्च का पेस्ट लगाने से उनमें आराम मिलता है और लंबे समय तक इसे लगाने से यह बीमारी भी ठीक हो जाती है।

Post a Comment

0 Comments