लड़कियों की आंखों में छिपी होती है कई बातें ,जानकर आप हो जायेंगे पागल

हमारे शरीर में अनेकों अंग हैं, जिसमें से आंख भी हमारे शरीर का एक अभिन्न अंग माना जाता है। अगर किसी इंसान के दिल में किसी व्यक्ति के लिए कोई बात है, वह उस बात को उसकी आंखों के जरिए से भी पहचान सकता है। आदमी की आंखें उसके व्यवहार पर निर्भर करती है, अगर चापलूस किस्म के व्यक्ति हैं, तो आपकी आंखों का रंग रूप उसी में बदल जाता है। वैसे कहा जाता है, की लड़कियों को तो सिर्फ आंखों से ही पहचाना या सुंदरता के लिए तारीफ मिलती है। आपने सुना ही होगा जब कोई बोलता है, इस लड़की की आंखें कितनी अच्छी है, इसकी आंखें मुझे कुछ इशारा कर रही है, इसकी आंखें मुझे कुछ बता रही है।


आंखों के भी अनेकों इशारे होते हैं। अगर आपने कभी खुद ध्यान दिया होगा कि जब भी कभी हंसते हैं, तो आपकी आंखें छोटी हो जाती है, और जब भी कभी उदास होते हैं, तो आपकी आंखें अपने आप ही एक तरफ देखने लग जाती है। और अगर आप जब भी कभी गुस्से में होते हैं तो आपकी आंखें अपने आप ही बड़ी हो जाती है। इंसान के व्यवहार पर ही उसके आंखों के इशारे काम करते हैं। कभी आपने किसी व्यक्ति को देखा होगा कि उसका व्यवहार एक ही तरीके का होता है, उसके अंदर मन को बताने वाली कोई ज्यादा बात नहीं होती है, उनकी आंखों के इशारे एक समान होते हैं। अगर आप एक दुकानदार हैं, और आपने कभी यह खुद में देखा होगा कि जब भी आप किसी भी ग्राहक से बातें करते हो या कोई सामान बेचने की कोशिश करते हो तो आप उसकी आंखों में आंखें डाल कर बात करते हो।अगर आप किसी भी ग्राहक की आंखों में आंखें डाल कर बातें नहीं करेंगे तो उसे आप विश्वास नहीं दिला पाएंगे। ग्राहक हमेशा दुकानदार की आंखों में देख कर ही परख लेता है कि यह विश्वसनीय इंसान है कि नहीं, अगर आप किसी भी ग्राहक की आंखों में आंखें डाल कर बात नहीं करते हैं तो आज से ही ग्राहक के आंखों में आंखें डालकर बात करने लग जाइए आपकी दुकान में तरक्की होगी।

Post a Comment

0 Comments