About Me

header ads

सचिन ने 100 सदी लगाने के बाद खोला ये राज,जानकर आपको नही होगा यकीन

सचिन तेंदुलकर को इंग्लैंड के तेज गेंदबाज टिम ब्रेसनन बाहर निकलने के बारे में बताया। ब्रेसनन के अनुसार, सचिन तेंदुलकर और ऑस्ट्रेलियाई अंपायर रॉड टकर को 100 वीं सदी से पहले 2011 के ओवल टेस्ट में आउट होने पर जान से मारने की धमकी दी गई थी। ब्रसेन ने कहा कि तेंदुलकर ओवल टेस्ट की चौथी पारी में 91 रन बनाकर खेल रहे थे तब अंपायर टकर ने सचिन को मेरी गेंद पर एलबीडब्लू आउट किया। अगर सचिन आउट नहीं हुए होते तो शतक पूरा कर लेते: ब्रेसनन ब्रसेन ने इंग्लिश काउंटी क्लब यॉर्कशायर के लिए एक पॉडकास्ट में कहा, "गेंद लेग स्टंप से बाहर जा रही थी और ऑस्ट्रेलियाई अंपायर टकर ने तेंदुलकर को आउट दिया।" वह 91 रन बनाकर खेल रहे 


थे और उन्होंने एक निश्चित शतक पूरा किया। हमने भारत के खिलाफ वह श्रृंखला जीती और दुनिया की नंबर एक टीम बन गई। " 'मुझे ट्विटर पर मिली मौत की धमकी' उन्होंने कहा: "इस घटना के बाद ही हम दोनों (ब्रेसनन और टकर) को मौत की धमकी मिली। मुझे ट्विटर पर धमकियां मिलीं और अंपायर टकर को उनके घर पर धमकी भरे पत्र मिले। सचिन कैसे आउट हुए? गेंद लेग स्टंप से बाहर जा रही थी। ” अंपायर टकर अपने साथ निजी सुरक्षा गार्ड रखते थे ब्रेसनन के मुताबिक, खतरों से घबराए टकर को अपनी सुरक्षा को बढ़ाना पड़ा। उन्होंने कहा, 


"कुछ महीने बाद वह मुझसे मिले और कहा, 'मुझे सुरक्षाकर्मियों को रखना है। ऑस्ट्रेलिया में उनके घर के आसपास पुलिस का घेरा बनाया गया है।" तेंदुलकर ने 2012 एशिया कप में अपना 100 वां शतक बनाया तेंदुलकर ने 2011 विश्व कप लीग मैच में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ अपना 99 वां अंतर्राष्ट्रीय शतक पूरा किया। हालांकि, 100 वीं सदी को हिट होने के लिए इंतजार करना पड़ा। 2012 के एशिया कप में उन्होंने बांग्लादेश के खिलाफ शतक बनाकर शतक पूरा किया। उन्होंने तब 114 रन बनाए थे। तेंदुलकर 100 अंतरराष्ट्रीय शतक लगाने वाले एकमात्र बल्लेबाज हैं। उन्होंने टेस्ट में 15921 और वनडे में 18426 रन बनाए हैं। उनके नाम 51 टेस्ट शतक और 49 एकदिवसीय शतक हैं।

Post a Comment

0 Comments