टीवी की जानी मानी एक्ट्रेस रश्मि देसाई ने शेयर की ये तस्वीरें देखकर आप हो जायेंगे दीवाने

टीवी की जानी मानी एक्ट्रेस रश्मि देसाई उन अभिनेत्रियों में से एक हैं, जिन्हें अपने प्रशंसकों के साथ वार्ता करना बहुत पसंद है. वहीं वह एक बड़े पैमाने पर प्रशंसक का आनंद लेती है व अपने विभिन्न सोशल मीडिया हैंडल पर कुछ मजेदार पोस्ट के साथ अपने प्रशंसकों का मनोरंजन करने का मौका नहीं छोड़ती है. आपकी जानकारी के लिए बता दें की वह सामाजिक अंतर चरण का आनंद ले रही है व घर पर आराम कर रही है, तो 


अभिनेत्री समय समय पर अपने परिवार के साथ की झलक भी देती है. वहीं वह अपने परिवार में होने वाली सामान्य चीजों व स्थितियों के बारे में बताती है, जिससे हमें पता चलता है कि वह हम सभी की तरह एक परिवार है, व पूरी तरह से जमीनी है.
कल 21 जून, 2020, दिल से दिल तक की अभिनेत्री ने एक मजेदार वीडियो साझा करने के लिए फिर से अपने इंस्टाग्राम हैंडल पर ले लिया| अच्छा वैसे ही, जैसा कि हम जानते हैं कि हमारा देश इस सदी का 'सबसे गहरा' कुंडलाकार सूर्यग्रहण देख चुका है. वहीं सूर्य लगभग 30 सेकंड के लिए मोतियों के पराजय के रूप में दिखाई दिया. हर कोई सूर्य ग्रहण देखने के लिए 


उत्साहित था, व इसलिए रश्मि भी यह देखना चाहती थी. उत्साह में अभिनेत्री सूर्य ग्रहण देखने के लिए अपनी खिड़की की ओर दौड़ी, लेकिन इसके बाद जो हुआ वह हममें से हर एक के लिए भरोसेमंद है. उतरन अभिनेत्री ने एक वीडियो के साथ सूर्य ग्रहण देखने की अपनी उत्तेजना के लिए अपनी माँ की रिएक्शन साझा की. वीडियो में, रश्मि को एक साधारण सफेद व नीले रंग के कुर्ते में देखा गया है व वह हमेशा की तरह खूबसूरत लग रही है. वहीं वह अपने घर की खिड़की पर भागती है व सूर्य ग्रहण देखने के लिए पर्दा खोलती है.


हालाँकि, कुछ ही सेकंड में उसके चेहरे की मुस्कान गायब हो जाती है व वह पर्दे को बंद कर वापस कमरे में चली जाती है.वहीं उसने ऐसा क्यों किया व ग्रहण को देखने के लिए उसकी सारी जिज्ञासा कहाँ थी? खैर, खूबसूरत अभिनेत्री ने इसे अपने कैप्शन में प्रकट किया है की उसकी माँ ने उसे डाँटा व उसे पर्दे बंद करने व घर में वापस आने के लिए कहा. रश्मि ने बताया है की सूर्य ग्रहण देखना सुरक्षित नहीं है.आपकी जानकारी के लिए बता दें की यह हर भारतीय परिवार की कहानी है, जिसमे घर का बड़ा बुजुर्ज सूर्य ग्रहण को देखने के लिए मना करता है | यह इस वर्ष का पहला सूर्य ग्रहण था व यह गर्मियों के संक्रांति के साथ हुआ

Post a Comment

0 Comments