About Me

header ads

अंतिम संस्कार के बाद लौटते समय क्यों देखते है पीछे ,जानिए

जब किसी व्यक्ति की मृत्यु हो जाती है तो उसे श्मशान घाट जब लिया जाया जाता है तो आपने वहां देखा होगा कि हम में लकड़ी के बात से चिता पर लेटे हुए व्यक्ति के सिर पर वार करते हैं जिस क्रिया को कपाल किया करते हैं हम ऐसा क्यों करते हैं इसके पीछे बहुत ही बड़ा कारण है ऐसा माना जाता है कि कपाल क्रिया करने से चिता पर लेटे हुए व्यक्ति की आत्मा सांसारिक बंधन से मुक्त हो जाती है और उसकी आत्मा को मुक्ति मिलती है इस बात का उल्लेख हिंदू धर्म शास्त्रों में किया गया है।
अंतिम संस्कार के बाद यह क्रिया अति जरूरी है।


हम जब श्मशान घाट से किसी को किसी की चिता जला का जब घर लौटने लगते हैं तो सबसे पहले हम अपने बाएं हाथ में तीन लकड़िया और दाहिने हाथ में दो लकड़िया शव दाह से उलटी दिशा में खड़े होकर सिर से ऊपर से लकड़ियों को पीछे की तरफ फेंकते हैं इसके पीछे की वजह क्या है आप क्या जानते हैं जा साल हम इसलिए ऐसा करते हैं कि हम मरे हुए व्यक्ति की आत्मा से हम कहते हैं कि तुम्हारा शरीर पंचतत्व में विलीन हो गया है अब तुम हम लोगों का मोह त्याग दो और हमने भी तुम्हारा मोह त्याग दिया है और तुम एक नए सफर की तरफ आगे बढ़ो



अंतिम संस्कार के बाद इन 5 चीजों को छूते हैं।
हिंदू धर्म शास्त्र के अनुसार जब हम किसी व्यक्ति की शव को जलाकर घर की ओर लौटते हैं तो हम कभी भी उस रास्ते का चुनाव नहीं करते हैं जिससे जिस रास्ते से शव को श्मशान घाट की तरफ ले जाया गया था बल्कि हम दूसरे रास्ते से अपने घर को लौटते हैं इसके अलावा अंतिम संस्कार के बाद व्यक्ति को स्नान करना चाहिए और साथ में घर में प्रवेश करने से पहले आग लोहा पत्थर का स्पष्ट करना चाहिए और साथ में दांतों में मिर्चा दबाना चाहिए ताकि आपके घर में किसी प्रकार के नकारात्मक ऊर्जा का प्रवेश ना हो और आपको किसी प्रकार की बुरे सपने रातों को ना आए।

Post a Comment

0 Comments