About Me

header ads

तेज़ी से आत्मविश्वास बढ़ाने के लिए करना चाहिए यह काम,जानें इस बारे में

आज सभी क्षेत्र में, चाहे वो राजनैतिक, कला, विज्ञान, पत्रकारिता, खेल, और आदि. सभी क्षेत्र में सफलता हासिल करने के लिए जो कुछ गुण हमारे अंदर होने चाहिए उनमें सबसे महत्वपूर्ण है हमारा 'आत्मविश्वास'। आत्मविश्वास एक ऐसा गुण है, जो इंसान को हर क्षेत्र में और जिंदगी के हर पहलू पर प्रत्येक चुनौती का सामना करने का साहस देता है।
लेकिन आज कल यह गुण लोगों में बहुत कम नजर आता है। लोग किसी कार्यक्रम में, मंच पर बात करने से घबराते है, बच्चे क्लास में प्रश्न का उत्तर पता होने के बावजूद उसे बताने से डरते है, युवा वर्ग इंटरव्यू देने से घबराता है, आदि. यह सब आत्मविश्वास की कमी की वजह से होता है, लेकिन आश्चर्य की बात यह है कि बहुत ही कम लोग इसको बढ़ाने के बारे में सोचते है। आत्मविश्वास एक ऐसी चीज है जो हमें दूसरों से अलग अच्छा दर्शाता है।


तो आइए जानते है, आत्मविश्वास को बढ़ाने के सबसे महत्वपूर्ण 5 तरीके 
यह बहुत ही महत्वपूर्ण है की हम खुद जैसे भी ही पहले हमें खुद को उस स्थिती में स्वीकार करना है,
चाहे हमारी कितनी भी अच्छाइयां और बुराइयां क्यों ना हो। यह इसलिए महत्वूर्ण हैं जब हम खुद को स्वीकार करते हैं, तो हम खुद को ज्यादा पहचान सकते है।
खुद को स्वीकार करने पर हमें ये करने में आसानी होगी। उसके बाद खुद में जो सकारात्मक है उसे और बेहतर किजिए, और जो नकारात्मक और कमजोरियां है उनपर काम कीजिए। उदाहरण के तौर पर अगर आपकी नकारात्मक चीज यह है कि आपको मंच पर बोलने से डर लगता है तो आइने के सामने प्रैक्टिस कीजिए या आपके दोस्तों को बोल के दिखाए।


हमें एक बार में ही रिजल्ट आएंगे ऐसा बिल्कुल नहीं है, हमें बस शुरुआत करनी है। अच्छे परिणाम धीरे धीरे दिखने लगेंगे। खुद को दूसरों से कम मत समझिए और दूसरों के साथ तुलना भी मत कीजिए। ऐसा करने से हम पूरी तरह खुद के कार्य में फोकस कर पाएंगे।
खुद को हमेशा सकारात्मक विचारों के साथ कनेक्ट रखें। इसके लिए आप अपनी पुरानी सफलताएं याद कर सकते है, या किसीको मदत किया हुआ प्रसंग याद कर सकते हो। हमेशा छोटी छोटी सफलता मिलने के बाद खुद को शाबाशी दीजिए। इससे आत्मविश्वास बढ़ाने में बहुत मदद मिलेगी।
सभी सफल और महान लोगों में यह बात कॉमन दिखाईं देती है कि वो अपने आप को समय देकर फिजिकल फिटनेस पर ध्यान देते है।
रोज व्यायाम करने से ना केवल हमारा शरीर बल्कि हमारा दिमाग भी तंदुरुस्त रहता है। इससे हमारी सकारात्मक सोच बढ़ जाती है, जो बहुत महत्वपूर्ण हैं आत्मविश्वास बढ़ाने के लिए।

Post a Comment

0 Comments