About Me

header ads

द्रविड़ ने सचिन, गावस्कर व विराट सबको छोड़ा पीछे ,जानिए

 भारतीय टीम में समय-समय पर ऐसे धाकड़ बल्लेबाज रहे हैं जिन्होंने अपनी शानदार बल्लेबाजी के दम पर पूरी दुनिया में धाक जमाई। विशेष रुप से भारत चार बल्लेबाजों की चर्चा पूरी दुनिया में होती है जिन्होंने अपने दौर के बड़े-बड़े गेंदबाजों के छक्के छुड़ा दिए। चार बल्लेबाजों में सुनील गावस्कर, सचिन तेंदुलकर, राहुल द्रविड़ और विराट कोहली का नाम सबकी जुबान पर आता है। हर आदमी अपने नजरिए से इनमें से किसी एक को सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज बताता है मगर विजडन इंडिया के एक सर्वे में राहुल द्रविड़ बाकी तीनों बल्लेबाजों पर भारी पड़े हैं। विजडन इंडिया के इस सर्वे में राहुल द्रविड़ को देश के 50 साल के टेस्ट इतिहास का सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज चुना गया है।


विजडन इंडिया के सर्वे में 11400 क्रिकेट फैंस ने हिस्सा लिया। राहुल द्रविड़ और सचिन तेंदुलकर के बीच काफी नजदीकी लड़ाई रही मगर आखिरकार राहुल द्रविड़ ने सचिन तेंदुलकर को पीछे छोड़ते हुए सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज का तमगा हासिल किया। सर्वे के मुताबिक 52 फ़ीसदी लोगों ने राहुल द्रविड़ को सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज के रूप में वोट किया जबकि 48 फ़ीसदी लोगों लोगों की राय थी कि सचिन तेंदुलकर पिछले 50 साल के सर्वश्रेष्ठ टेस्ट बल्लेबाज रहे हैं। राहुल द्रविड़ को द वाल के नाम से जाना जाता रहा है। बेहद संयम और शांत दिमाग से खेलने वाले राहुल द्रविड़ ने अपनी क्लीन पारियों के दम पर हर किसी का दिल जीता है।



सर्वे में भारत के दो और बेहतरीन बल्लेबाजों सुनील गावस्कर और विराट कोहली का भी नाम शामिल किया गया था। द्रविड़ और सचिन के बाद सुनील गावस्कर तीसरा स्थान पाने में कामयाब रहे जबकि विराट कोहली चौथे नंबर पर रहे।
विराट कोहली मौजूदा समय में टीम इंडिया के कप्तान हैं और उन्हें आईसीसी रैंकिंग में नंबर वन आंका गया है। उन्हें और ऑस्ट्रेलिया के स्टीव स्मिथ को मौजूदा दौर का सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज माना जाता है। विराट कोहली के पास अभी भी काफी वक्त है। उन्होंने अब तक अपने टेस्ट करियर में 86 मैच खेलकर 7240 रन बनाए हैं। उनका औसत 53.62 रहा है। जानकारों का कहना है कि वे अभी आगे कई साल क्रिकेट खेलेंगे और क्रिकेट जगत के तमाम रिकॉर्ड अपने नाम करने में कामयाब होंगे।



सुनील गावस्कर काफी पहले क्रिकेट की दुनिया से रिटायर हो चुके हैं, लेकिन उनकी शानदार बल्लेबाजी आज भी लोगों के दिलो-दिमाग में दर्ज है। गावस्कर जिस दौर में बल्लेबाजी कर रहे थे, उस दौर में वेस्टइंडीज और आस्ट्रेलिया के पास मारक तीन तेज गेंदबाजों की फौज थी मगर गावस्कर ने इन सभी गेंदबाजों का पूरे विश्वास के साथ सामना किया था। वैसे उनकी बल्लेबाजी एकदिवसीय क्रिकेट के लिए ज्यादा उपयुक्त नहीं थी मगर टेस्ट क्रिकेट में उनकी शानदार बल्लेबाजी का हर कोई लोहा मानता रहा है। उन्होंने टेस्ट क्रिकेट के इतिहास में सबसे पहले 10000 रन बनाए थे। उन्होंने अपने टेस्ट करियर में 125 मैच खेलकर 10122 रन बनाए और उनका औसत 51.12रहा है।



सचिन तेंदुलकर को भारत के क्रिकेट इतिहास का सबसे महान बल्लेबाज माना जाता है और अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट जगत में भी सचिन को काफी सम्मान हासिल है। सचिन ने टेस्ट क्रिकेट के साथ ही एकदिवसीय क्रिकेट में भी अपनी शानदार बल्लेबाजी से क्रिकेट फैंस का दिल जीता है। जहां तक टेस्ट क्रिकेट का सवाल है तो सचिन तेंदुलकर ने 200 मैच खेलकर 15921 रन बनाए हैं और उनका औसत 53.78 रहा है।

Post a Comment

0 Comments