About Me

header ads

फिट रहने के लिए करना चाहिए इन चीजों का सेवन ,जानिए

जिंदगी में अगर आप लंबी आयु तक जीना चाहते हैं। तो सामान्य खान पान के साथ ऐसे बहुत ही कम संभव हैं। इसके लिए आपको खानपान को बहुत अच्छा रखना पड़ेगा, जिससे कि आपके शरीर को वे सभी पोषक तत्व मिलें, जिनसे आपका शरीर ढलती आयु में भी मजबूत व स्वस्थ रहे। इसके लिए 


आपको खानपान में बहुत से परिवर्तन करने होंगे इसके साथ ही फिट रहने के लिए अभ्यास भी करना होगा आज हम आपको इस आर्टिकल में सात ऐसे पोषक तत्वों के बारे में बताएंगे, जो आपके शरीर को मजबूती देते हैं। इनके लिए आपको अपनी डाइट में कुछ चीजों को शामिल करना होगा, जिससे कि आपके शरीर को आवश्यक पोषक तत्व मिल सकें। नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ हेल्थ के चिकित्सक गुडसन व रिज़ो ने कुछ पोषक तत्व व उनके स्रोत के बारे में बताया है, जिनको खाने से 50 वर्ष की आयु में भी आपका शरीर फुर्तीला व स्वस्थ रहेगा। आइए इन जानिए इस बारे में कुछ इस पोषक तत्वों के बारे में जानते हैं।
हां। नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ हेल्थ के डॉक्टरों के अनुसार आयु के अनुसार डाइट में परिवर्तन होना चाहिए, क्योंकि हमारे शरीर को बदलती आयु के साथ ही अलग- अलग पोषक तत्वों की 



जरूरत होती है। डाइट में परिवर्तन से आपको भिन्न-भिन्न पोषक तत्व मिलते हैं, जो रोग प्रतिरोधक होते हैं। डाक्टरों को बोलना है कि अगर आपने 50 वर्ष की आयु को पार कर लिया है तो इन सात पोषक तत्वों को लेना चाहिए। इसके लिए आपको डाइट में कुछ चीजों को शामिल करना होगा। आइए इसके बारे में जानते हैं।प्रोटीन मांसपेशियों को लचीला बनाए रखने में मदद करता है। यह आपकी आयु के अनुसार मांसपेशियों के प्राकृतिक नुकसान से निपटने में मदद साबित होता है।
पोल्ट्री, मछली, अंडे, दूध, पनीर, सेम, फलियां, ग्रीक दही, व सोया जैसी चीजें खा सकते हैं।
 फाइबर आपके  कार्य करने के लिए नियमित रखता है व कोलेस्ट्रॉल के स्तर व दिल रोग के जोखिम को कम करता है।
साबुत अनाज, फल, सब्जियां, बीन्स व फलियां।
 कैल्शियम व विटामिन डी एक-दूसरे के साथ हो जाते हैं। कैल्शियम को अच्छा से अवशोषित करने के लिए आपके शरीर को विटामिन डी की जरूरत होती है। दोनों हड्डियों को मजबूत करते हैं व इम्यूनिटी बढ़ाते हैं।


वसायुक्त मछली, दूध व अनाज, अंडे, मशरूम, व कॉड लिवर ऑयल विटामिन डी से भरपूर होते हैं। सीड्स, पनीर, दही, सार्डिन, सामन, दूध, व बादाम कैल्शियम से भरपूर होते हैं।
 शरीर में लाल रक्त कोशिका के निर्माण, न्यूरोलॉजिकल फ़ंक्शन व डीएनए संश्लेषण के लिए विटामिन बी-12 की जरूरत होती है। मछली, मांस, मुर्गी, अंडे, दूध, दूध उत्पाद से बनी चीजें, गढ़वाले अनाज
पोटेशियम एक जरूरी इलेक्ट्रोलाइट है जो आपकी कोशिकाओं को सामान्य गतिविधियों जैसे कि मांसपेशियों के संकुचन व एक कुशल दिल की धड़कन को पूरा करने के लिए आवश्यक है। पर्याप्त न मिलने से उच्च रक्तचाप, दिल रोग, व मधुमेह जैसी बीमारी हो सकती है।खुबानी, दाल, किशमिश, बलूत का फल, आलू, केले, सोयाबीन, गुर्दे सेम।


ओमेगा -3 एस सूजन व दिल रोग को कम करने, कोलेस्ट्रॉल व ट्राइग्लिसराइड के स्तर को बढ़ाने में मदद करता है। ओमेगा -3 एस याददाश्त को बढ़ाता है। अलसी का तेल, चिया के बीज, अखरोट, सामन व हेरिं  आयरन लाल रक्त कोशिकाओं को मांसपेशियों तक ऑक्सीजन पहुंचाने के लिए शक्ति प्रदान करता है। अपच की समस्या में मदद करता है। आयरन व्यायाम के दौरान आपकी मांसपेशियों के ईंधन का प्राथमिक स्रोत हैं।

Post a Comment

0 Comments